करणी सेना के स्वाभिमान सम्मलेन में शामिल हुए हजारो राजपूत सरदार सात किलोमीटर लम्बी रैली निकाली। - करणी सेना KARNISENA.COM NEWS LATEST UPDATES OF RAJPUTANA

Latest News

KARNISENA.COM

Post Top Ad

Responsive Ads Here

www.KarniSena.com

Saturday, October 27, 2018

करणी सेना के स्वाभिमान सम्मलेन में शामिल हुए हजारो राजपूत सरदार सात किलोमीटर लम्बी रैली निकाली।

27 Oct 2018 Kotputli JAIPUR राजस्थान में तहसील कोटपूतली में स्थित राजनौता गाँव में  राजपूत स्वाभिमान सम्मेलन का आयोजन श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना द्वारा २७ अक्टूम्बर के किया गया जिसमे लगभग दस हजार से ज्यादा लोगो ने भाग लिया व सात किलोमीटर लम्बी रैली निकाल कर सभा स्थल तक पहुंचे हजारो करणी सैनिक , युवा व वरिष्ठ राजपूत सरदार व ठिकानेदार। श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना सिरोही जिला संगठन द्वारा आयोजित स्वाभिमान सम्मेलन को संबोधित करते हुए करणी सेना सुप्रिमो सुखदेव सिंह जी गोगामेड़ी ने कहा कहा   "जो अपनी जात का नहीं वो अपने बाप का नही " 
राजपूत समाज के साथ छलावा व गद्दारी करते हुए, कौम की एकजुटता को तोड़ने वाले राजपूत समाज के उन प्रतिनिधियों के बाबत, जो बड़े बड़े राजनेताओं और राजनीतिक दलों की गोद में बैठकर कौम के विरूद्ध षड़यंत्रों पर मौन रहते हैं, उन षड़यंत्रों में प्रत्यक्ष अप्रत्यक्ष रूप से शामिल रहते हैं, उन सभी नेताओं पर, करणी सेना मुखिया सुखदेव सिंह गोगामेड़ी का पत्रकारों मार्फत खुला वक्तव्य ....  :- https://youtu.be/Zy65Huysqzo


#श्रीराष्ट्रीयराजपूतकरणीसेना द्वारा #कोटपूतली तहसील में स्थित #राजनौता गाँव में आयोजित #स्वाभिमान_सम्मेलन में,
प्रेस मीडिया संवाददाताओ के सवालों का जबाब देते हुए, करणी सेना मुखिया #सुखदेवसिंह जी #गोगामेड़ी।


जब तक हमारी मांगे ना मानी जाएगी, सार्वजनिक रूप से किसी राजनीतिक दल द्वारा राजपूत समाज को, सवर्णों को विश्वास नहीं दिलाया जाता है, तब तक ना कांग्रेस को सपोर्ट, ना ही इस भाजपा को वोट दिए जाएंगे।
           - सुखदेव सिंह गोगामेड़ी 







एक छोटी सी तहसील कोटपूतली में श्री राष्ट्रीय राजपूत करणी सेना,गोगामेड़ी जी  के स्वाभिमान सम्मलेन में शामिल हुए हजारो राजपूत सरदार सात किलोमीटर लम्बी रैली निकाली  वही दूसरी और जयपुर  वैशाली में आयोजित श्री राजपूत करणी सेना, कालवी जी की विशाल हुंकार रैली में नहीं पहुंचे लोग ४०००० कुर्सियां खाली पड़ी रही इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है की राजपूताने का बड़ा धड़ा दादा सुखदेव सिंह गोगामेड़ी के साथ है वे जहा भी जाते है वहां हजारो-लाखो लोग इकठ्ठा हो जाते है मध्यप्रदेश के उज्जैन में तो दस लाख लोगो ने इकठ्ठा हो कर इतिहास रच दिया था।


No comments:

Post a Comment

WWW.KARNISENA.COM